स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी :अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी लेने का सही समय कब है?
स्वास्थ्य बीमा योजनाएं युवा लोगों के लिए सस्ती होती हैं और इसके विपरीत। इसलिए, अपने २० या ३० के दशक में से किसी एक को चुनना एक बुद्धिमानी भरा निर्णय है। किफायती कवरेज के अलावा आप किसी मेडिकल इमरजेंसी के दौरान आर्थिक रूप से भी फायदा उठा सकते हैं।

मेडिकल कवरेज खरीदते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?
एक प्रतिष्ठित बीमाकर्ता हमेशा त्वरित और कुशल दावा निपटान प्रदान करता है, जिससे पॉलिसीधारकों को गुणवत्तापूर्ण चिकित्सा देखभाल प्राप्त करने की अनुमति मिलनी चाहिए। इसके अतिरिक्त, आपको दावा दाखिल करने की प्रक्रिया पर विचार करना चाहिए। कुछ कंपनियां आपको मोबाइल एप्लिकेशन के माध्यम से बीमा दावों को बढ़ाने की अनुमति देती हैं। आवश्यकता पड़ने पर ऐसी डिजिटल प्रक्रियाओं को समझना और पूरा करना आसान होता है।

बीमा कंपनियों को चुनते समय IRDAI की मंजूरी क्यों महत्वपूर्ण है?
IRDAI भारत में बीमा क्षेत्र के विकास और नियमन के लिए पूरी तरह से जिम्मेदार एक केंद्र सरकार का निकाय है। IRDAI के तहत पंजीकृत कंपनियों को कुछ दिशानिर्देशों और नियमों का पालन करना चाहिए, जो पॉलिसीधारक के लिए पारदर्शिता सुनिश्चित करते हैं। अन्य कंपनियां इन नियमों के लिए बाध्य नहीं हैं, जो बाद में ग्राहकों के लिए जटिलताएं पैदा कर सकती हैं।

बीमा प्रदाता से सीधे खरीदे जाने पर स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियां ​​सस्ती क्यों होती हैं?
जब आप किसी एजेंट से खरीदते हैं तो स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियां ​​अधिक महंगी होती हैं, लेकिन सीधे कंपनी से खरीदते समय इसकी लागत थोड़ी कम होती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि एजेंट ग्राहकों को बेची जाने वाली प्रत्येक पॉलिसी पर एक निश्चित कमीशन लेते हैं।

यह अतिरिक्त शुल्क पॉलिसीधारकों की जेब से बढ़े हुए प्रीमियम के रूप में आता है। जब आप किसी बीमा कंपनी से सीधे संपर्क करते हैं, तो आपको यह कमीशन राशि वहन करने की आवश्यकता नहीं होती है, जिससे आपकी प्रीमियम देनदारियां कम हो जाती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *